Muli ka Achar Kaise Banta Hai - आसान मुली का अचार रैसिपि 2023 - muli ka achar

Muli ka Achar Kaise Banta Hai - आसान मुली का अचार रैसिपि 2023 - muli ka achar 

हैलो दोस्तों आज हम आपको बताएँगे muli ka achar kaise banta hai. भारतीय भोजन बिना अचार के अधूरा है, क्योंकि भारतीय ज़्यादातर लोग अचार के साथ ही भोजन करते हैं| बिना अचार के भोजन में स्वाद नहीं आता| इसलिए आज हम आपके लिए एक सुंदर और स्वादिस्ट muli ka achar रैसिपि लेकर आए हैं| यह अचार पोषक तत्वों से भरपूर होता है, और इस अचार में बिटामिन्स, मिनरल्स और एंटीऔक्सिडेंट्स होते हैं| यह मूली का अचार हर किसी को पसंद आता है| इस अचार को कोई भी व्यक्ति आसानी से अपने घर पर बना सकता है| इस अचार के लिए ज्यादा समिग्री कि जरूरत नहीं होती है| इस अचार को आप दाल, चावल, पराठे और अपनी पसंद के अनुसार किसी भी भोजन के साथ सर्व कर सकते हैं| यह अचार आपके भोजन के स्वाद को और भी ज्यादा मजेदार बना देगा| इस अचार को आप अपने परिवार वालों और मित्रों के साथ सर्व कर सकते हैं| और अपने परिवार वालों को खुस कर सकते हो|  मूली का अचार न केवल अच्छा लगता है, बल्कि यह अचार आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद होता है| इसलिए आपको यह अचार एक बार अपने घर पर जरूर बनाना चाहिए| तो चलो सुरू करते हैं, आज कि यह फायदेमंद और स्वादिस्ट muli ka achar कि रैसिपि - 

Muli ka Achar Kaise Banta Hai - मुली का अचार रैसिपि

Muli ka Achar Kaise Banta Hai

Muli ka Achar Kaise Banta Hai - आसान मुली का अचार रैसिपि 2023 - muli ka achar 

सामग्री - Ingredients for muli ka achar recipe 

  1. मूली - 500 ग्राम (राधिश)
  2. सरसों का तेल - 4 टेबलस्पून
  3. हींग - 1/2 चम्मच
  4. मेथी के दाने - 2 चम्मच
  5. सौंफ - 2 चम्मच
  6. काली मिर्च पाउडर - 1 चम्मच
  7. लाल मिर्च पाउडर - 1 चम्मच
  8. हल्दी पाउडर - 1/2 चम्मच
  9. नमक - 2 चम्मच

विधि - muli ka achar kaise banta hai - muli ka achar kaise banaen

Muli ka Achar Kaise Banta Hai


  1. मूली का अचार बनाने के लिए सबसे पहले आप मूली को अच्छी तरह से धो लें और पानी को सुखाने के लिए इनको धीमि आंच पर रख दें| इस से मूली का प्राकृतिक नमक जो है वह निकल जाएगा|
  2. फिर आप मूली को छोटे छोटे टुकड़ों में कार लें| और किसी बड़े बर्तन में रख लें|
  3. अब आप कड़ाई में सरसों का तेल गरम कर लें| अब जब तेल गरम हो जाये तो आप उसमें हींग, मेथी के दाने और सौंफ डाल दें|
  4. अब आप मसालों को थोड़ा सा भून लें, ताकि ये स्वादिस्ट बने| फिर इसके बाद आप इसमें काली मिर्च पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, हल्दी और नमक ड़ाल दें| फिर सभी मसालों को अच्छी तरह से मिला लें|
  5. अब आप मसालों को मूली के टुकड़ों के साथ अच्छी तरह से मिला लें|
  6. फिर आप इस अचार को एक साफ जार में भर दें, और ढ़क दें| इसके बाद इस अचार को धूप में 5 से 6 दिन के लिए सूखा दें| अचार को धूप में सुखाने से अचार का स्वाद और मिश्रण में अच्छे संरक्षण के गुण आते हैं|
  7. अब जब आपका यह अचार पूरी तरह से सूख जाये तो आप इस अचार को सर्व कर सकते हैं| आप इसको पूरी, पराठे या खिचड़ी के साथ सर्व कर सकते हैं|
  8. यह मूली के अचार की एक आसान और स्वादिस्ट रैसिपि है| आप इस अचार को अपने परिवार वालों और दोस्तों के साथ सर्व कर सकते हैं| और इसका आनंद उठा सकते हैं|
video credit - nisha madhulikha

Read More Recipe - maggi banane ki vidhi , idli sambar recipe in hindi , egg biryani recipe in hindi , amla ka achar kaise banta hai , nimbu ka achar kaise banta hai , bhindi masala recipe in hindi

Note -

  1. यदि आप इसमें और एक आदंत जोड़ना चाहते हैं, तो आप मूली के अचार में थोड़ी सी इमली की चटनी या धनिया-पुदीना की चटनी डाल सकते हैं। इससे अचार को और अद्वितीय और स्वादिष्ट बनाने का आपका स्वाद बढ़ जाएगा।
  2. अचार को एक सुंदर भंडार में सजाएं और अपने परिवार और मित्रों के साथ साझा करें। इससे आपका भोजन वास्तविक अनुभव बन जाएगा और लोगों को इसका आनंद लेने में आनंद आएगा।
  3. यदि आप एक नया स्वाद अनुभव करना चाहते हैं, तो आप मूली के अचार को कुछ समय तक पकने के लिए छोड़ सकते हैं। इससे मसाले और स्वाद का आपसी मिश्रण और अच्छे संरक्षण के गुण आते हैं।
  4. यहां आपके लिए मूली के अचार की पूरी रेसिपी है। इसे आप अपनी रसोई में आसानी से बना सकते हैं और खाने के साथ उसका आनंद ले सकते हैं। तो जल्दी से इस रेसिपी को आजमाएं और मूली के स्वादिष्ट और ताजगी भरे अचार का आनंद उठाएं!

अंत में -

मूली का अचार ताजगी और स्वाद का ग्रंथ है जो आपके भोजन को एक नया रंग और उमंग देता है। इस अचार का आकर्षण उसके चटपटे और तीखे स्वाद में छिपा है जो आपकी जीभ को झूम उठाएगा। मूली के अचार में सरसों के तेल का उपयोग उसके स्वाद को और गहरा बनाता है, जबकि हींग, मेथी दाने और मसालों का मिश्रण उसे एक खास खुशबू और स्वाद प्रदान करता है। इसे धूप में सुखाने से उसका स्वाद और रंग बढ़ता है, जिससे यह आपके भोजन के साथ बिल्कुल अद्वितीय और आकर्षक हो जाता है। इस मसालेदार अचार को एक बंद जार में संचित करके आप इसे लंबे समय तक स्वादिष्टता के साथ संभाल सकते हैं। इसे पूरी, परांठे, खिचड़ी या सादे चावल के साथ परोसें और खाने का आनंद लें। यह अचार न केवल भोजन को मजेदार बनाएगा, बल्कि इसमें मौजूद मूली के गुण आपके स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद होंगे।

FAQ:

Q.1 अचार वाली मूली कितने समय तक तक चलती हैं?
Ans
. मसालेदार मूली रेफ्रिजरेटर में छह महीने तक रखी जा सकती है, लेकिन अगर तीन महीने के भीतर खा ली जाए तो सबसे अच्छी होती है। वे तीन महीने के बाद भी खाने के लिए सुरक्षित हैं, लेकिन उनमें कुछ कुरकुरापन कम होने लगेगा और स्वाद कम तीव्र और चमकीला हो जाएगा|

Q.2 मुली से इतनी बदबू क्यों आती है?
Ans
. कुछ लोग कहते हैं कि इसमें गैस रिसाव जैसी गंध आ रही है, जबकि अन्य लोग अपने वाहन साथी को बुरा रूप दे सकते हैं, लेकिन असली अपराधी मूली है। यह गंध मूली के पौधे के सड़ने से आती है| मूली को आमतौर पर "जैव-जुताई" करने की क्षमता के कारण कवर फसल के रूप में उपयोग किया जाता है|

Q.3 मुली रोग क्या है?
Ans
. जीवाणु गीला सड़न रोग : मूली के अलावा इस रोग से गाजर, शलजम, आदि कई अन्य जड़ वाली फसलें भी प्रभावित होती हैं| इस रोग से प्रभावित पौधों की ऊपरी पत्तियां पीली हो कर सूखने लगती हैं| कई बार मूली के फलों पर धब्बे उभरने लगते हैं| इस रोग से बचने के लिए 15 लीटर पानी में 25 ग्राम देहात फुल स्टॉप मिला कर छिड़काव करें|

Q.4 मुली खाने के बाद क्या-क्या नहीं खाना चाहिए?
Ans
. दूध के साथ मूली खाना या फिर मूली खाने के तुरंत बाद दूध (Milk) पी लेना सेहत के लिए नुकसानदायक होता है. इससे हार्टबर्न, एसिडिटी और पेट दर्द की दिक्कत हने लगती है. इन दोनों के सेवन के बीच कुछ घंटों का अंतराल रखना चाहिए|

Q.5 मुली से क्या लाभ है?
Ans
. मूली सेहत के लिए फायदेमंद होती है| स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक सर्दियों में मूली के सेवन से इम्यूनिटी मजबूत होती है, सर्दी खांसी जैसी बीमारियों से बचा जा सकता है। मूली खाने से दिल की बीमारियों का खतरा भी कम होता है। लेकिन कई लोग मूली खाने से परहेज करते हैं|

Q.6 मुली से क्या फायदे हैं?
Ans
. मूली विटामिन-ए, बी, सी, प्रोटीन, कैल्शियम और आयरन जैसे कई खनिज पदार्थों से भरपूर होती है। यह पाचन के लिए बेहतरीन मानी जाती है और यही वजह है कि लोग सर्दियों में इसे ज़रूर खाते हैं| मूली सवादिष्ट होने के साथ पोषण से भी भरपूर होती है, लेकिन फिर भी इसे कई तरह के फूड्स और ड्रिंक्स के साथ खाने से बचना चाहिए|

Q.7 क्या मुली खाने से पेट साफ होता है?
Ans
. आधा कप मूली खाने से आपको लगभग 1 ग्राम फाइबर मिलता है| जो कि डेली फाइबर इनटेक तक पहुंचने में मदद करता है| फाइबर कब्ज को खत्म करता है और स्टूल को आसानी से बाहर निकालता है| वहीं अगर आप गैस और एसिडिटी से परेशान रहते हैं तो मूली खाने से बहुत राहत मिलती है|

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.